प्रसार भारती के बारे में


प्रसार भारती, प्रसार भारती अधिनियम के तहत स्थापित एक वैधानिक स्वायत्त निकाय है और 23.11.1997 को अस्तित्व में आया है। यह देश का लोक सेवा प्रसारक है। सार्वजनिक सेवा प्रसारण के उद्देश्यों को आकाशवाणी और दूरदर्शन के माध्यम से प्रसार भारती अधिनियम के संदर्भ में प्राप्त किया जाता है, जो पहले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के तहत मीडिया इकाइयों के रूप में काम कर रहे थे और चूंकि उपर्युक्‍त तारीख़ से प्रसार भारती के घटक बन गए थे।


आकाशवाणी


air logo

आकाशवाणी, भारत का लोक सेवा प्रसारक, प्रसार भारती का रेडियो कार्यक्षेत्र अपनी शुरुआत से लेकर अब तक, अपने आदर्श वाक्य- 'बहुजन हिताय: बहुजन सुखाय' के लिए अपने दर्शकों को सूचित करने, शिक्षित करने और उनका मनोरंजन करने की सेवा कर रहा है। प्रसारण की भाषाओं की संख्या और इसके द्वारा संचालित सामाजिक-आर्थिक और सांस्कृतिक विविधता के संदर्भ में दुनिया के सबसे बड़े प्रसारण संगठनों में से एक, आकाशवाणीकी होम सर्विस में देश भर में स्थित 470 प्रसारण केंद्र शामिल हैं, जो लगभग 92% देश का क्षेत्रफल और कुल जनसंख्या का 99.19%को कवर करते हैं। आकाशवाणी मूल रूप से 23 भाषाओं और 179 बोलियों में कार्यक्रमोंको प्रसारित करता है।

दूरदर्शन


DD logo

दूरदर्शन भारत का लोक सेवा टेलीविजन नेटवर्क है, जिसका प्रसार भारती का टीवी कार्यक्षेत्र है। यह स्टूडियो और ट्रांसमीटरों के मामले में दुनिया में सबसे बड़े प्रसारण संगठनों में से एक है। दूरदर्शन ने अपने एनालॉग ट्रांसमीटरों को डिजिटल ट्रांसमीटरों में बदलना शुरू कर दिया है, जिसमें एक ट्रांसमीटर से 8 चैनलों तक ले जा सकते हैं। दूरदर्शन की तीन स्तरीय कार्यक्रम सेवाएं हैं - राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और स्थानीय। राष्ट्रीय कार्यक्रम पूरे राष्ट्र के लिए घटनाओं और हितों के मुद्दों पर जोर देते हैं। इन कार्यक्रमों में समाचार, करंट अफेयर्स, पत्रिका कार्यक्रम और विज्ञान, कला, संस्कृति, पर्यावरण, सामाजिक मुद्दे, धारावाहिक, संगीत, नृत्य, नाटक और फीचर फिल्मों पर वृत्तचित्र शामिल हैं।

डीडी न्यूज़


DD News

डीडी न्यूज़, प्रसार भारती का टेलीविजन समाचार चैनल देश का एकमात्र स्थलीय सह उपग्रह समाचार चैनल है। भारत का लोक सेवा प्रसारकहोने के नाते अलग-अलग तरह की राय के बारे में, संवेदनशील खबरों के साथ-साथ संतुलित, निष्पक्ष और सटीक समाचार देने के लिए अपनी जिम्मेदारी का सफलतापूर्वक निर्वहन कर रहा है। डीडी-न्यूज़ चैनल को 3 नवंबर 2003 को डीडी-मेट्रो में24 घंटे के लिए लॉन्च किया गया है। इसका उपग्रह फुटप्रिंट देशभर में उपलब्ध है। डीडी स्थलीय की लगभग 25% देश के क्षेत्रफल और जनसंख्‍या का 49% तक पहुंच है। डीडी न्यूज़ वर्तमान में हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू और संस्कृत भाषाओं में समाचारों का प्रसारण कर रहा है। इन भाषाओं में 30 से अधिक समाचार बुलेटिनों का प्रसारण और 17 घंटों से अधिक का सीधाप्रसारण शामिल है।




आकाशवाणी न्यूज़


air news

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग प्रसार भारती का रेडियो समाचार नेटवर्क है, जिसे दुनिया के प्रमुख प्रसारण संगठनों में से एक होने का गौरव प्राप्त है। आकशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग (एनएसडी) भारत और विदेशों में श्रोताओं के लिए समाचार और चर्चा का प्रसारण करता है। 1939-40 में 27 समाचार बुलेटिनों में से, आकाशवाणी आज गृह, क्षेत्रीय और विदेश सेवा में 82 भाषाओं / बोलियों में लगभग 52 से अधिक बुलेटिनों को प्रतिदिन 52 घंटेप्रसारित करता है।

फ्री डिश


dth

फ्री डिश व्यक्तिगत छोटे डिश एंटीना के साथ सीधे उपग्रह के माध्यम से टीवी सेवा प्राप्त करने के लिए प्रसार भारती की फ्री डायरेक्ट टू होम (डीटीएच) सेवा है। डीटीएच सेवा को घर पर टीवी सेवा प्राप्त करने के लिए स्थानीय केबल ऑपरेटर की आवश्यकता नहीं होती है। दूरदर्शन की डीटीएच सेवा जिसे डीडी फ्री डिश के नाम से जाना जाता है, इसको दिसंबर 2004 में 33 चैनलों की मामूली क्षमता के साथ लॉन्च किया गया था। Click here

डी.टी.टी.


dtt

प्रसार भारती, भारत में पहली बार डिजिटल स्थलीय प्रसारण शुरू कर रहा है। भारत में मौजूदा एनालॉग टीवी ट्रांसमीटर भारत की आबादी का लगभग 88% हिस्सा कवर करता है। सीमित आवृत्ति क्षमता के कारण, एनालॉग टेरेस्ट्रियल टेलीविजन प्लेटफॉर्म को भविष्य की मांगों को पूरा करने और नई सेवाओं के लॉन्च के लिए एक नए और अधिक कुशल ट्रांसमिशन सिस्टम की आवश्यकता थी। भारत ने स्थलीय नेटवर्क के डिजिटलाइज़ेशन के लिए डी वी बी स्‍टैंडर्ड को अपनाया है। जून 2008 में लॉन्च किए गए डीवीबी टी2 स्टैंडर्ड की पूर्व के डी वी बी टी से लगभग 50% अधिक क्षमता है। डीवीबी टी2 ट्रांसमीटर में उच्च डेटा क्षमता (40 एमबीपीएस तक) है। XIवीं और XIIवींयोजना के तहत 63 शहरों में दूरदर्शन के स्थलीय टीवी ट्रांसमीटर का डिजिटलीकरण शुरू किया गया है। डीवीबी टी2 ट्रांसमीटर स्थिर, पोर्टेबल और मोबाइल उपकरणों से लैस है।Click here




प्रसार भारती अभिलेखागार




नवीनतम वीडियो



© कॉपीराइट 2018, प्रसार भारती (आईटी डिवीजन) द्वारा प्रबंधित वेबसाइट सामग्री।
पिछला नवीनीकरण 07/01/2020